Quote by Dr. Aniruddha Joshi on अपेक्षा, Apeksha in photo large size

अपेक्षा रखनी ही हो तो वह केवल चण्डिकाकुल से और स्वयं से

Quote by Dr. Aniruddha Joshi on अपेक्षा, भीख, चण्डिकाकुल, स्वयं, Aniruddha Bapu, Apeksha in photo large size
अपेक्षा रखनी ही हो तो वह केवल चण्डिकाकुल से और स्वयं से। दूसरे से मिलती है, वह होती है भीख।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Chinta Bharosa Ishwar चिन्ता ईश्वर भरोसा in photo large size

चिन्ता करने से क्या सहायता मिलनेवाली है?

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on चिन्ता, सहायता, ईश्वर, भरोसा, कार्य, Life, Dr. Aniruddha Joshi  in photo large size
चिन्ता करने से क्या सहायता मिलनेवाली है? ईश्वर पर भरोसा रखकर ध्यानपूर्वक अपना कार्य करते रहो।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Sadguru Vishvas सद्गुरु विश्वास in photo large size

जितने प्रमाण में ‘सद्गुरु रखवाला है’ यह विश्‍वास; उतने ही प्रमाण में आत्मविश्‍वास।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on विश्‍वास, रखवाला, प्रमाण, concrete, Trust, Life, सद्गुरु in photo large size
जितने प्रमाण में ‘सद्गुरु रखवाला है’ यह विश्‍वास; उतने ही प्रमाण में आत्मविश्‍वास।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi on कल्याण Kalyan in photo large size

पहले मुझे निश्चित रुप से तय कर लेना चाहिए कि ये मेरे परमेश्वर हैं और मैं उनका हूं।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi on कल्याण Kalyan in photo large size
पहले मुझे निश्चित रुप से तय कर लेना चाहिए कि ये मेरे परमेश्वर हैं और मैं उनका हूं। ये मेरा कल्याण करने के लिए ही हैं और मैं अपना कल्याण करवाने ही वाला हूं।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Parishram परिश्रम in photo large size

कोई चीज मुझे यदि किसी से किसी कारणवश मुफ्त में मिल गयी और मैं उसे लेने से इनकार नहीं कर सकता हूं

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Parishram  परिश्रम in photo large size
कोई चीज मुझे यदि किसी से किसी कारणवश मुफ्त में मिल गयी और मैं उसे लेने से इनकार नहीं कर सकता हूं, तो उस चीज के जितना मूल्य या उन मूल्यों के जितने परिश्रम मुझे परमेश्वर के चरणों में अर्पण करने आना चाहिए।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on pravrutti प्रवृत्ति in photo large size

जिसमें देने की प्रवृत्ति होती है, उसे ही भगवान देते रहते हैं। जिसमें लोगों को लूटने की प्रवृत्ति होती है

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on pravrutti प्रवृत्ति in photo large size
जिसमें देने की प्रवृत्ति होती है, उसे ही भगवान देते रहते हैं। जिसमें लोगों को लूटने की प्रवृत्ति होती है, सिर्फ लोगों से हथियाने की ही प्रवृत्ति होती है, उसे भगवान कुछ नहीं देते।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Jeevan Parneshwar जीवन परमेश्वर in photo large size

जीवन में परमेश्वर से यदि कुछ मांगना ही है तो वह अवश्य मांगिए

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Jeevan, Parmeshwar, जीवन, परमेश्वर in photo large size
जीवन में परमेश्वर से यदि कुछ मांगना ही है तो वह अवश्य मांगिए, लेकिन यह मांगना मत भूलिए कि हे परमेश्वर, मैं तुम्हें चाहता हूं, बाकी का जो कुछ भी देना है वह अवश्य दो, लेकिन एक बात निश्चित रुप से मांग रहा हूं कि.... मैं तुम्हें ही चाहता हूं।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Krutadnyata Parmeshwar परमेश्वर कृतज्ञता in photo large size

कृतज्ञता यह ऐसा गुणधर्म है, जो परमेश्वर को सब से अधिक पसंद है।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Krutadnyata Parmeshwar परमेश्वर कृतज्ञता in photo large size
कृतज्ञता यह ऐसा गुणधर्म है, जो परमेश्वर को सब से अधिक पसंद है।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Bhagwan Aastik in photo large size

भगवान हैं’ यह सिर्फ मानना ही आस्तिक भावना नहीं है

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Bhagwan Aastik आस्तिक in photo large size
‘भगवान हैं’ यह सिर्फ मानना ही आस्तिक भावना नहीं है, बल्कि मेरे जीवन में मुझे भगवान चाहिए, भगवान का शासन मुझ पर बना रहे, ऐसी इच्छा होना यह आस्तिक भावना है।

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on Parmeshwar Bhakti Savadhanata in photo large size

अच्छा या बुरा कार्य करने की शक्ति मेरी सावधानता पर निर्भर करती है

Quote by Dr. Aniruddha Joshi Aniruddha Bapu on भक्ति, सावधानता, परमेश्वर, शक्ति, कार्य, जीवन, अनिरुद्ध बापू in photo large size
अच्छा या बुरा कार्य करने की शक्ति मेरी सावधानता पर निर्भर करती है और यह सावधानी मुझे केवल परमेश्वर की भक्ति से ही प्राप्त हो सकती है।